NEWS

फरवरी से देश में लागू होंगे यह 5 बड़े नियम, समय रहते जान ले वरना पड़ेगा पछताना

देश की सत्तासीन मोदी सरकार पिछले काफी लंबे समय से कई बड़े बदलाव करने के लिए जानी गई है। गौरतलब है कि मोदी सरकार में सदैव कुछ ना कुछ परिवर्तन अवश्य होते रहते हैं। यही वजह है कि एक बार फिर से 1 फरवरी को कई बड़े बदलाव किए जा रहे हैं। आपको बता दें कि यह सभी बड़े बदलाव वर्तमान समय में भारतीय व्यवस्था को और अधिक सरल बनाने के लिए किए गए हैं। ताकि आम जनजीवन को और अधिक आसानी प्राप्त हो सके। यही वजह है कि आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से 1 फरवरी से लागू होने वाले पांच बड़े नियमों के बारे में बताने जा रहे हैं।
फरवरी से देश में लागू होंगे यह 5 बड़े नियम, समय रहते जान ले वरना पड़ेगा पछताना
1. सवर्ण आरक्षण:- फरवरी 2019 से पूरे भारत में मोदी सरकार के द्वारा हाल ही में लाया गया सवर्णों के लिए 10 वीं सदी आरक्षण लागू हो जाएगा। आपको बता दें कि पीएम मोदी के द्वारा सवर्णों को 10 वीं सदी आरक्षण देने का यह फैसला ऐतिहासिक है।
2. ड्राइविंग लाइसेंस:- हाल ही में परिवहन मंत्रालय ने डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस को बंद करने के लिए 1 फरवरी से सभी ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड से लिंक कराने का आदेश जारी कर दिया है। जिसके बाद 1 फरवरी 2019 के बाद जो ड्राइविंग लाइसेंस आधार कार्ड से लिंक नहीं होगा वह रद्द कर दिया जाएगा।
फरवरी से देश में लागू होंगे यह 5 बड़े नियम, समय रहते जान ले वरना पड़ेगा पछताना
3. बजट पेश होगा:- 1 फरवरी 2019 को मोदी सरकार के इस कार्यकाल का आखिरी बजट पेश किया जाएगा तथा उम्मीद की जा रही है कि मोदी सरकार अपनी सारी बजट में देश की जनता को लुभाने के लिए हर संभव कोशिश करेगी। यही वजह है कि यह बजट काफी ज्यादा मायने रखता है।
4. इनकम टैक्स पेमेंट नियम:- फरवरी 2019 से इनकम टैक्स पेमेंट का नियम भी मोदी सरकार के द्वारा बदला जा सकता है। गौरतलब है कि वर्तमान समय में किसी भी व्यक्ति को 2.5 लाख कीमत की कमाई पर भी इनकम टैक्स देना पड़ता है, लेकिन सरकार के द्वारा इस बदलाव के बाद यह राशि ₹500000 हो सकती है।
फरवरी से देश में लागू होंगे यह 5 बड़े नियम, समय रहते जान ले वरना पड़ेगा पछताना
5. टीवी चैनल सिलेक्शन नियम:- टीवी चैनल सिलेक्शन का नियम भी एक फरवरी 2019 से लागू हो जाएगा। बताते चलें कि इसके तहत ट्राई ने काफी बड़ा ऐलान किया है। दरअसल अब से सभी उपभोक्ताओं को सिर्फ उन्हीं चैनल का पैसा देना होगा, जिन्हें वह देखना चाहते हैं तथा कोई भी तकरीबन 100 चैनल का सिलेक्शन कर सकता है। इन सभी नियमों में से सबसे क्रांतिकारी नियम कौन सा है? तथा क्या यह सभी परिवर्तन होने चाहिए थे?
Sourec – Insider

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *